रविवार, 23 अगस्त 2020

घायल महिला को कंधों लेकर 40 किमी लेे गए ITBP सेना

SHARE
ITBP-army-carried-40-km-injured-woman

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ का दुरदराजा गांव लपसा सुदूर से मुनस्यारी के गाँव तक घायाल महिला को कंधो पर हॉस्पिटल्स लेे जा रही एक तस्वीर सामने आई है। जबनो ने कैसे एक घायल महिला को 40 किमी रास्ता चाले। इसमें उन्हें 15 घंटे लगे। ITBP जावान ने घायल महिला को ले जाते समय गढ़ा के साथ कई भूस्खलन को पार करना पड़ा। 


ITBP ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

ITBP-army-carried-40-km-injured-woman

ITBP के वीडियो को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ। हर्ष बर्धन ने रीट्वीट किया। उन्होंने लिखा "ITBP जावान ने साबित किया है कि उन्होंने न केवल सीमा पर बल्कि देश के लिए भी मदद का हाथ बढ़ाया है। घायल महिला को उत्तराखंड अस्पताल में लाने के लिए हर्षवर्धन ने जबानो की प्रशंसा की। ITBP के वीडियो को ट्वीट और शेयर भी किया । रीट्वीट मै कहा "सेवा सबसे बड़ा धर्म है।"

सड़क पार करते ही जाबानो ने पहाड़ी इलाकों को भी पार कर लिया। घटना सोरुप यह पता चला की 20 अगस्त को एक स्थानीय महिला पहाड़ों में गिर गई थी। पैर टूटने के कारण वह दर्द में थी। महिला को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करना अबस्यक था। खबर मिलने के बाद महिला को हस्पाताल के लिए आईटीबीपी के जवान सीमा चौकी से गांव गए।

वे पहले 22 अगस्त को गांव पहुंचे और पैदल ही महिला को स्ट्रेचर पर ले गए। रास्ते में, 25 आईटीबीपी के युवा स्ट्रेचर को अस्पताल ले जाने लिए, एक के बाद एक, 15 घंटे तक रास्ता चाले।
उत्तराखंड करौना महामारी से प्राकृतिक समस्याओं से जूझ रहा है। मौसम की शुरुआत से ही राज्य बारिश की मार झेल रहा है।"बाढ़ और भूस्खलन के कारण लोगों को बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।"

SHARE

Author: verified_user

0 Comments: